गणतन्त्र दिवस

छब्बीस जनवरी की परेड में
हांथी देखे घोड़े देखे, देखे तोप जहाज
भारत की ताकत दुनिया को
दिखलाते हम आज

प्यारी प्यारी सजी झाँकियाँ
अद्भुत रीति रिवाज
भारत की ताकत दुनिया को
दिखलाते हम आज

नमन शहीदों को करते हम
जिन पर सबको नाज
भारत की ताकत दुनिया को
दिखलाते हम आज

हम एक थे हम एक हैं
गूँज रही आवाज
भारत की ताकत दुनिया को
दिखलाते हम आज

नीरज त्रिपाठी

मुन्ने की कार

मुन्ने की कार

मुन्ने की प्यारी सी कार
रंग लाल है पहिये चार

नीले पीले हरे खिलौने
डिग्गी में हैं भरे खिलौने।

छोटी छोटी सी दो लाइट
हार्न बजाकर मुड़ता राइट

झीली टूटू दीपू आए
मुन्ना सबको सैर कराये।

नीरज त्रिपाठी

नया साल जंगल में आया

बंदरिया मेक अप कर आई
बन्दर ने दाढ़ी बनवाई
गदहे ने परफ्यूम लगाया
नया साल जंगल में आया

हैट लगाकर आई हथिनी
टाईट जींस भालू ने पहनी
शेर ने सबको डिनर कराया
नया साल जंगल में आया

मगरमच्छ ने टॉफी बांटी
पैंट सूट में आया हाथी
सबने मिलके केक मंगाया
नया साल जंगल में आया

ग्रीटिंग कार्ड सभी ने बांटे
चूहे के संग चुहिया नाचे
कछुए ने एक गाना गाया
नया साल जंगल में आया